+91 946-736-0600   |   Find us on:           

REGISTER   |    LOGIN

Latest News

डॉक्टर की सलाह के बिना जानलेवा हो सकती हैं गर्भनिरोधक गोलियां

health Capsule

नई दिल्ली । अक्सर महिलाएं बिना डॉक्टरी सलाह के गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन कर लेती हैं। इसमें वे ध्यान नहीं रखतीं कि उनके गर्भ का कितना समय हो चुका है। यह जानलेवा साबित हो सकता है। स्थिति बिगड़ने के कारण कई महिलाओं को अस्पताल में भर्ती करना पड़ता है, तब ऑपरेशन ही एकमात्र विकल्प बचता है। कई बार स्थिति इतनी खराब होती है कि ऑपरेशन जोखिम भरा होता है। यह कहना है महिला रोग विशेषज्ञ डॉ.ममता त्यागी का।

महिला के जीवन को खतरा

दैनिक जागरण से संक्षिप्त बातचीत में उन्होंने कहा कि आजकल लोग मेडिकल स्टोर से जाकर इस तरह की दवा खरीद लेते हैं। अगर डॉक्टर से परामर्श किया जाए तो वे अल्ट्रासाउंड करके स्थिति और खतरे को भांप सकते हैं। इससे मरीजों को खतरे से बाहर किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि कई बार गर्भ की शुरुआत नसों से होती है। अगर ऐसी स्थिति में गर्भनिरोधक गोलियां ली गईं हैं तो महिला के जीवन को खतरा हो सकता है।

सामने आ चुके हैं कई मामले 

शुरुआत में ऐसे मरीजो में रक्तस्त्राव होता है, लेकिन उन्हें इसका पता नहीं चल पाता। इस वजह से उसकी हालत धीरे-धीरे खराब होने लगती है। जब तक यह समझ में आता है तो देर हो चुकी होती है। ऐसे कई मरीज अब तक उनके सामने आ चुके हैं।

दवाओं की बिक्री पर भी रोक लगनी चाहिए

डॉ.ममता ने कहा कि बिना डॉक्टरी सलाह के इस तरह की दवाओं की बिक्री पर भी रोक लगनी चाहिए। वैसे भी किसी भी दवा के साइड इफेक्ट होते हैं। यही वजह है कि डॉक्टर मरीज की स्थिति को देखते हुए दवा लिखते हैं। उन्होंने कहा कि ठंड के मौसम में गर्भवती महिलाओं को अपना खास ख्याल रखना चाहिए। उनकी बीमारी का असर गर्भ पर भी पड़ सकता है। 


from Dainik Jagra

Enquiry Form