+91 946-736-0600   |   Find us on:           

REGISTER   |    LOGIN

Latest News

होठों पर छाले होते हैं लिप कैंसर के शुरुआती संकेत, जानें लक्षण और कारण

health Capsule

  • मुंह के छाले हो सकते हैं लिप कैंसर के शुरुआती संकेत।
  • सूरज की किरणों और तंबाकू के सेवन से ज्यादा खतरा।
  • होठों पर घाव अगर जल्दी ठीक न हो, तो डॉक्टर से संपर्क करें।

कई बार पाचन की गड़बड़ी के कारण होंठों और जबान में छालों की समस्या हो जाती है। आमतौर पर ये छाले 3-5 दिन में अपने आप ठीक हो जाते हैं। लेकिन होंठों पर आने वाले छाले अगर लंबे समय से ठीक नहीं हो रहे हैं या तेजी से बढ़ रहे हैं, तो ये लिप कैंसर का भी संकेत हो सकते हैं। होंठों का कैंसर खतरनाक रोग है। यह मुंह के कैंसर का ही एक प्रकार है। आमतौर पर होंठों का कैंसर सूरज की किरणों के संपर्क में ज्यादा रहने और तंबाकू वाले पदार्थों के सेवन से होता है। लिप कैंसर की शुरुआत में होठों पर छाले होते हैं, जो बाद में घाव बन जाते हैं और सामान्य उपचार से ठीक नहीं होते हैं। आइए आपको बताते हैं होंठों के कैंसर के बारे में कुछ जरूरी बातें और इससे बचाव के तरीके।

क्या है लिप कैंसर

लिप कैंसर एक तरह का मुंह का कैंसर है, जिसमें होंठों के आस-पास की कोशिकाएं अनियंत्रित होकर सूखने या बढ़ने लगती हैं। इसके कारण कई बार होंठों पर घाव हो जाता है और कई बार होंठों के आस-पास की त्वचा पर अनियंत्रित आकार में उभार शुरू हो जाता है, जो देखने में खराब लगते हैं। शुरुआत में अगर इलाज शुरू कर दिया जाए, तो इससे मुक्ति पाई जा सकती है मगर आमतौर पर इसके लक्षण जल्दी दिखाई नहीं देते हैं।


किन कारणों से होता है होंठों का कैंसर

होंठों का कैंसर कई कारणों से हो सकता है। आमतौर पर सूरज की किरणों के ज्यादा संपर्क में रहने से और तंबाकू उत्पादों का सेवन करने से ये कैंसर हो सकता है। धूम्रपान करने वाले होंठों के कैंसर का खतरा ज्यादा होता है। दरअसल सूरज की धूप शरीर के लिए फायदेमंद है लेकिन एक सीमा तक ही है। ओजोन लेयर में छेद होने से धूप के साथ हानिकारक अल्ट्रावॉयलेट किरणें भी आती हैं जो शरीर के लिए हानिकारक हैं। इन किरणों के संपर्क में ज्यादा समय तक रहने से स्किन कैंसर का खतरा हो जाता है। सनस्क्रीन कुछ हद तक आपको इन हानिकारक किरणों के प्रभाव से बचाता है।

होंठों के कैंसर के लक्षण

इस कैंसर से पीड़ित व्‍यक्ति के होंठों पर घाव या जख्‍म बन जाते हैं। अधिकतर यह समस्‍या नीचे के होंठ पर होती है। इसका उपचार आसान नहीं होता। इसमें खून भी निकलता है, कुछ लोगों का यह अनुभव बहुत ही दर्दभरा होता है। यह घाव कई बार होंठ के अलावा मुंह में अंदर की तरफ बढ़ जाता है, जिससे और ज्‍यादा परेशानी बढ़ जाती है। हालांकि यह समस्‍या अधिकतर नीचे के होंठ पर ही होती हैं, लेकिन कई बार यह संक्रमण ऊपर के होठ पर भी फैल जाता है। होंठों के कैंसर के अन्‍य लक्षण निम्‍नलिखित है।

  • दांतों का ढीला हो जाना
  • होंठों से या उसके आस-पास से खून निकलना
  • सूजन के साथ होंठों में दर्द रहना
  • आवाज का अचानक बदल जाना
  • गले और मुंह में दर्द रहना
  • किसी चीज को खाने या पीने में परेशानी होना
  • होठों पर लाल रंग के दाग या सफेद चकते हो जाना
  • चबाते या बोलते समय, जीभ हिलाते समय परेशानी होना
  • कान में दर्द या गले में घाव होना


Enquiry Form