+91 946-736-0600   |   Find us on:           

REGISTER   |    LOGIN

Latest News

बीमारी में हर महिला को गायनोकोलॉजिस्ट से पूछने चाहिए ये 6 सवाल

health Capsule
महिलाएं पुरुषों की अपेक्षा जल्दी-जल्दी बीमार पड़ती हैं। इसका कारण एक तो उनके शरीरी की रचना है और दूसरा उनके आस-पास का वातावरण है। महिलाओं को समय-समय पर पीरियड्स, प्रेगनेंसी, मेनोपॉज और हार्मोनल बदलावों के कारण कई तरह की बीमारियों का सामना करना पड़ता है। आमतौर पर भारत में बहुत सी महिलाएं जब डॉक्टर के पास किसी बीमारी के इलाज के लिए जाती हैं, तो उनसे ज्यादा सवाल-जवाब पूछने में हिचकिचाती हैं। खासकर ग्रामीण अंचल में महिलाएं डॉक्टर या गायनोकोलॉजिस्ट( स्त्री रोग विशेषज्ञ) से अपनी सेहत के विषय में केवल उतनी ही बात करती हैं, जितना डॉक्टर उनसे पूछता है। लेकिन कुछ ऐसे सवाल हैं, जिन्हें बीमारी के इलाज के समय या जांच के समय हर महिला को डॉक्टर या गायनोकोलॉजिस्ट से पूछना चाहिए।


वजन सही है या नहीं?

आजकल ऐसी बहुत सी बीमारियां हैं, जिनका कारण आपका ज्यादा या कम वजन है। आमतौर पर ज्यादातर लोगों का वजन बिल्कुल उनके उम्र और जरूरत के अनुसार नहीं होता है इसलिए जब भी डॉक्टर से किसी भी बीमारी के सिलसिले में मिलें उनसे ये जरूर पूछ लें कि क्या आपका वजन ठीक है? या आपको इसे बढ़ाने या घटाने की जरूरत पड़ेगी? अगर जरूरत पड़ेगी तो किस तरह आप इसे बढ़ा या घटा सकती हैं?

क्या खाएं, क्या न खाएं?

कई ऐसी बीमारियां हैं जिन्हें परहेज के द्वारा ज्यादा जल्दी और आसानी से ठीक किया जा सकता है। वहीं कुछ बीमारियों में कुछ खास चीजें खाकर जल्दी आराम पाया जा सकता है। ऐसे में आप डॉक्टर के पास किसी भी बीमारी के विषय में मिलने जाएं, तो उनसे उस खास बीमारी में क्या खाएं और क्या न खाएं जैसे सवाल जरूर पूछ लें। अगर आपको किसी विटामिन या सप्लीमेंट की कमी के लक्षण महसूस होते हैं, तो डॉक्टर से उस विटामिन या मिनरल की पूर्ति के लिए सही आहार भी पूछ लें।

क्या डाइटिंग या प्रेगनेंसी में मुझे पसंदीदा चीजें खाना पूरी तरह छोड़ना पड़ेगा?

आमतौर पर प्रेगनेंसी और डाइटिंग के समय डॉक्टर बाहरी चीजों और फास्ट फूड्स के सेवन पर पाबंदी लगाने की बात कहते हैं। ऐसे में डॉक्टर को बिना बताए आप इन चीजों का धड़ल्ले से सेवन करेंगी तो इससे आपका ही नुकसान होगा इसलिए डॉक्टर से पूछ लें कि क्या आपको डाइटिंग या प्रेगनेंसी में पसंदीदा चीजें खाना पूरी तरह छोड़ना पड़ेगा? आमतौर पर डाइटिंग का मतलब यह नहीं होता कि आप अपनी पसंदीदा डिश ही खाना बंद कर दें। आप खा तो कुछ भी सकते हैं, लेकिन सही समय और सही मात्रा में खाना बेहद ज़रूरी है। अगर आप चॉकलेट के बहुत शौकीन हैं, तो अकेले मत खाइए। जैसे की आप 1 चॉकलेट को शेयर कर सकते हैं। अगर पिज़्ज़ा आपको बहुत पसंद है तो 3 स्लाइस की जगह 1 स्लाइस खाएं। ध्यान में रहे कि डॉक्टर से इस संबंध में पूछकर ही कुछ खाएं।

पीरियड में अनियमितता या ब्लड ज्यादा क्यों निकलता है?

महिलाओं में कई तरह की पीरियड में समस्या होती है जिसके बारे में वो किसी से बात नहीं करती हैं। पीरियड में अक्सर महिलाओं को दर्द की शिकायत रहती है। कभी-कभी बहुत ज्यादा ब्लड निकलता है तो कभी बहुत कम। हर पीरियड की अलग समस्या होती है जो कभी-कभी किसी बीमारी की वजह भी हो सकता है। इस तरह की तमाम समस्याओं के बारे में जरूर अपने डॉक्टर से बात करें।

जीवनशैली से कैंसर जैसी घातक बीमारी भी हो सकती है क्या ?

आपने अक्सर पढ़ा या सुना होगा कि गलत और अनियमित जीवनशैली से कैंसर जैसी घातक बीमारी की आशंका बढ़ जाती है। इसलिए जब भी डॉक्टर के पास चेकअप के लिए जाएं उससे अपनी दिनचर्या और खान-पान के बारे में बताते हुए ये जरूर पूछ लें कि कहीं किसी बीमारी की आशंका तो नहीं है या स्वस्थ रहने के लिए कैसी जीवनशैली अपनानी चाहिए।

अगर आपने पहले एबॉर्शन करवाया है, तो डॉक्टर को बताएं

आमतौर पर अनमैरिड लड़कियां तो इस सवाल का जवाब गलत देती ही हैं, कई बार विवाहित महिलाएं भी इस सवाल का गलत जवाब देती हैं। जबकि आपकी किसी बीमारी या शारीरिक अवस्था के पीछे अबॉर्शन का बहुत बड़ा हाथ हो सकता है। इसलिए इस तरह के सवालों का जवाब कभी भी गलत नहीं देना चाहिए। इसके साथ ही शारीरिक संबंधों से या पीरियड्स की गड़बड़ी से जुड़े सवालों का गलत जवाब देना भी आपके लिए खतरनाक हो सकता है।


Enquiry Form